How much does it cost Indian Railways to build a train? भारतीय रेलवे को एक ट्रेन बनाने में कितना खर्च आता है?

Rate this post

भारत में अधिकांस लोग यात्रा करने में ट्रेन का ही उपयोग करते है |भारत में रेलवे का नेटवर्क पुरे भारत में फैला हुआ है इसकी वजह से अधिकांस लोग ट्रेवल करने के भारतीय रेलवे का ही उपयोग करते है |भारत में लोगों के यात्रा करने की पहली पसंद ट्रेन ही रहती है इसी की वजह से भारतीय लोग ज्यादा तर अपनी यात्रा रेलगाड़ी में ही करना पसंद करते है चाहे सफ़र की दुरी कम हो या ज्यादा . भारत के बहुत से इलाके ऐसे है जहाँ पर कोई भी बस स्टेण्ड नहीं है

वहां पर भी भारतीय रेलवे ने अपना स्टेशन बना दिये है .और लोगो को लम्बी दुरी तय करनी होती है तब लोग ट्रेन में आराम से सोने की सुविधा भी मिल जाती है . लेकिन कभी किसी ने सोचा है की एक पुरी ट्रेन को बनाने में कितना खर्चा आता है. भारतीय रेलवे एक ट्रेन को बनाने में कितना पैसा खर्च करता है . इसकी जानकारी हम आपको इस आर्टिकल में पुरी विस्तार से बताने वाले है . How much does it cost Indian Railways to build a train?

जब भी मार्केट में कोई भी नई गाड़ी या बाइक आती है तो लोग सबसे पहले उसके फीचर्स व उसकी कीमत की और आकर्षित होते है .इसलिए जरा सोचिए की इतनी बड़ी रेलगाड़ी की कीमत क्या होगी . बहुत से लोगों को वो एक साथ में एक से दुसरे स्थान पर ले जाती है . How much does it cost Indian Railways to build a train? आज हम आपको इसी प्रशन का उत्तर देने वाले है . ट्रेन के हर कोच व उसकी सुविधा के अनुसार उसकी कीमत आंकी जाती है . यही जैसे जनरल कोच ,स्लीपर और AC कोच की लागत अलग-अलग होती है.

What is the cost of all three coaches in Indian Railways? भारतीय रेलवे में तीनों कोचों की लागत कितनी है ?

भारतीय रेलवे जब भी कोई ट्रेन को बनती है तो उसमे तीन प्रकार के कोच बनती है. जो की तीनों हो कोच में अलग-अलग सुविधा भी होती है . इसलिए भारतीय रेलवे को अलग- अलग कोच के अनुसार ही कीमत लगती है. जनरल कोच की कीमत लगभग 50 लाख से 1 करोड़ रुपये तक होती है. क्योंकि इन कोच में यात्रियों काम सुविधा डी जती है इसलिए ही इस कोच की कीमत कम लगती है . सुपरफास्ट ट्रेन में कुल 24 कोच होते है , लेकिन इन सभी कोचों की कीमत भी अलग होती है . इस सुपरफास्ट ट्रेन के प्रत्येक कोच को बनाने में लगभग 2 करोड़ रूपये की लागत आती है . इसलिए एक सुपरफास्ट ट्रेन को बनाने में लगभग 50 करोड़ से 90 करोड़ के बिच की लागत आती है .

How much does it cost Indian Railways to build a train
How much does it cost Indian Railways to build a train

इसलिए सभी ट्रेन की कीमत कोच की सुविधा पर ही निर्भर करती है . ट्रेन नोकल होने पर उसकी कीमत भी कम होती है . क्योंकि उस ट्रेन में सुविधा भी बहुत ही काम मात्र में मिलती है. लेकिन स्लीपर कोच की ट्रेन को बनाने में भारतीय रेलवे को ज्यादा कीमत लगानी पड़ती है . और इसके अलावा भी AC कोच की बात करे तो भारतीय रेलवे को इस ट्रेन को बनाने में बहुत ही अधिक धन खर्च करने की जरुरत पड़ती है .इसमें एयर कण्डिश्नर कोच और अन्य सुविधां के कारण इसकी कीमत ज्यादा लगाती है . लेकिन अब हम आपको भारतीय रेलवे के सबसे महंगे हिस्से की जानकारी बतायेगे जिसे जानकर के आप हेरान हो जायेगे .भारतीय रेलवे का सबसे महंगा भाग ट्रेन का इंजन होता है. इस एक इंजन को बनाने में सभी कोच बनाने के बराबर कीमत देनी पड़ती है . इस एक इंजन को बनाने में रेलवे को 20 करोड़ रुपये की लागत आती है . इसलिए ट्रेन का इसे सबसे अहम् भाग मना जाता है. भारतीय रेलवे का इंजन भारत में बनाने की वजह से इसकी कीमत काम आती है नहीं तो इसकी कीमत इससे भी ज्यादा होती .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Discover more from Online News

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading