सलूम्बर न्यूज़ : एक साथ चार की मौत काल बनकर दौड़ा करंट, पिता-माता, पुत्र व पुत्री की मौत

Rate this post

सलूम्बर न्यूज़ : कूण (सलूम्बर) . सलूम्बर जिले के कूण थाना क्षेत्र अन्तर्गत ग्राम पंचायत ढिकिया के बोडफला में गुरुवार रात आठ बजे शॉर्ट सर्किट से एक घर में करंट प्रवाहित होने से दंपती, पुत्र व पुत्री की मौत हो गई। इस घटना के बाद गांव में शोक छा गया। सुनाई दे रहा था तो सिर्फ परिजनों का क्रंदन।

जानकारी के अनुसार बोडफला निवासी ऊंकार मीणा के घर में पास के पोल से शॉर्ट सर्किट हुआ, जिससे करंट फैल गया, जिससे वह झुलस गया। उसे बचाने के लिए दौड़े पत्नी, पुत्र और पुत्री भी करंट की चपेट में आ गए। चारों की मौके पर ही मौत हो गई। आसपास के लोगों ने घटना की सूचना ढिकिया सरपंच पूनम चंद मीणा को दी। सरपंच की सूचना पर पुलिस व जनप्रतिनिधि मौके पर पहुंचे और 108 एंबुलेंस को बुलाया।पुलिस के अनुसार हादसे में ऊंकार मीणा (68), उसकी पत्नी भमरी (67), पुत्र देवीलाल (25) व पुत्री मांगी (22) की मौके पर मौत हो गई।

सूचना पर कूण थानाधिकारी प्रवीण सिंह शक्तावत मय जाप्ता मौके पर पहुंचे। आरआई गौतम लाल मीणा, पटवारी जयदीप सिंह, जनप्रतिनिधि कन्हैयालाल मीणा, मंडल अध्यक्ष विक्रम सिंह झाला, उपप्रधान धनराज पटेल, लसाड़िया सरपंच रूप लाल मीणा, विरम लाल मीणा, लक्ष्मण लाल मीणा, नाथुलाल मीणा, पूनम चंद मीणा सहित ग्रामीण मौजूद थे। इधर, सूचना मिलने पर रात्रि को सलूम्बर जिला कलक्टर प्रताप सिंह व डिप्टी डूंगरसिंह भी लसाडि़या सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचे।

करंट की चपेट में आने से बुजुर्ग दंपती की मौत

-झाड़ोल के बैरणा गांव की घटना झाड़ोल. थाना क्षेत्र के बैरणा गांव में गुरुवार को खेत में फसल को पानी दे रहे बुजुर्ग दंपती की करंट की चपेट में आने से मौत हो गई। वहीं, स्थानीय ग्रामीण बुजुर्ग दंपती की मौत के लिए विद्युत निगम को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं।जानकारी के अनुसार वक्ता (70) पुत्र मंगला खराड़ी एवं उसकी पत्नी रूपली (65) गुरुवार दोपहर को अपने खेत में फसल को पानी देने का कार्य कर रहे थे। झाड़ोल से बैरणा गांव की ओर जाने वाले विद्युत लाइन पर बिजली का तार लटका हुआ था, जिसकी चपेट में आने से दोनों की मौके पर मौत हो गई।

इस पर तुरंत स्थानीय ग्रामीणों ने विद्युत निगम को सूचना देकर बिजली बंद कराई। करंट से मौत की सूचना पर पुलिस व बिजली विभाग के कर्मचारी मौके पर पहुंचे। घटनास्थल से मृतक बुजुर्ग दंपती के शव को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के मोर्चरी में रखवाया गया। मामले में पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की।

स्थानीय ग्रामीणों में आक्रोश : ग्रामीणों का कहना है कि झाड़ोल से बैरणा गांव की ओर आने वाली विद्युत लाइन पर करीब चार माह से तार इतने नीचे लटके हैं कि हाथ बढ़ाकर भी इन्हें छू सकते हैं। अधिकारियों को कई बार अवगत कराने के बावजूद इस ओर ध्यान नहीं दिया गया, जिसका खामियाजा बुजुर्ग दंपती को भुगतना पड़ा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Discover more from Online News

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading